Blog Kapha is empty

Back to homepage

Guide to Immunity

Featured Articles

Popular Articles

मजबूत पाचन शक्ति के लिए अपनी डाइट में शामिल करें यह खाद्य पदार्थ, Digestive Care Therapy लेना न भूलें !

Mon, Jan 08, 24

“दो वक़्त की रोटी का जुगाड़”, यह टर्म तो आपने जरूर सुना होगा, कभी बॉलीवुड फिल्मों में तो कभी आम जिंदगी में। जिंदगी का सारा दारोमदार दो वक्त की रोटी के लिए ही लोग करते हैं। Good Food = Good Mood, आप भी इस बात से जरूर वाकिफ होंगे लेकिन जरा सोचिए यदि आपका digestive system खाना को पचाने में सक्षम न हो तो फिर आपका मूड कैसा होगा और आपके overall health पर इसका क्या प्रभाव पड़ेगा। आप माने या न माने लेकिन एक हेल्दी लाइफ के लिए healthy digestive system का होना बेहद आवश्यक है। यदि किसी भी कारण से आपका डिजेस्टिव health डिस्टर्ब होता है तो इसका प्रभाव आपके संपूर्ण जीवनशैली पर पड़ सकता है। 

In short यदि समझने का प्रयास करें तो आपके digestive system का healthy होना खासतौर से सेहतमंद रहने और खान-पान के लिए काफी जरूरी है। यदि आप भी सेहतमंद रहना चाहते हैं तो आपको अपने पाचन शक्ति को मजबूत बनाना होगा। आज इस आर्टिकल में हम आपके पाचन शक्ति को मजबूत करने के लिए डाइट में शामिल किये जाने वाले कुछ खास खाद्य पदार्थों का जिक्र करने जा रहे हैं। इसके साथ ही आपको बताएंगे Maharishi Ayureveda Digestive Care Therapy के बारे में। तो देर किस बात कि, आईए जानते हैं पाचन को मजबूत बनाने वाले इन बेहद खास खाद्य पदार्थों के बारे में। 

Healthy Digestive System के लिए Diet में शामिल करें यह खाद्य पदार्थ

अगर आपको भी आए दिन कुछ भी खाने के बाद पेट में गुरगुराहट, अपच, कब्ज या गैस की समस्या होती है तो आपको जान लेना चाहिए की आपका पाचन तंत्र सुचारु रूप से काम नहीं कर रहा है। इसके समाधान के रूप में आप अपनी डाइट में कुछ ऐसे खाद्य पदार्थों को शामिल कर सकते हैं जो न केवल आपके पाचन तंत्र को मजबूती देगा बल्कि आपके overall wellbeing के लिए भी महत्वपूर्ण होता है।  

  • पपीता : यह एक ऐसा फल है जिसमें फाइबर के साथ ही प्रचुर मात्रा में प्रोटीन पाया जाता है। हमारे पाचन तंत्र के लिए विशेष रूप से फाइबर को काफी फायदेमंद माना गया है। फाइबर और प्रोटीन का यह मिश्रण विशेष रूप से आपके पाचन तंत्र के लिए रामबाण की तरह काम करता है। यदि नियमित रूप से आप अपनी डाइट में पपीता का उपयोग करते हैं तो इससे आपके पाचन तंत्र में काफी हद तक सुधार देखने को मिल सकता है। पपीता का सेवन आप स्मूदी, शेक या फिर काटकर सिम्पली खा सकते हैं।
    पपीता
  • ग्रीक योगर्ट: ग्रीक योगर्ट में बहुत से तत्व पाए जाते हैं जिसे पाचन के लिए बेहद कारगर माना जाता है। इस दही में खासतौर से गुड बैक्टीरिया की मात्रा ज्यादा होती है जो पाचन क्रिया को सुचारु बनाती है। इसके साथ यह पेट को ठंडक प्रदान करता है और पाचन में मददगार होता है। रोजाना नियमित रूप से इस दही का सेवन करना आपके पाचन तंत्र के लिए खासतौर से लाभकारी साबित हो सकता है।
ग्रीक योगर्ट
  • अदरक : आपकी जानकारी के लिए बता दें कि अदरक में प्रचुर मात्रा में antioxidant पाया जाता है, जो पाचन तंत्र को सुचारु रूप से काम करने में काफी मददगार साबित होता है। इसके साथ ही इसमें anti inflammatory गुण भी पाए जाते हैं जो पेट से जुड़ी समस्याओं का निदान करने में काफी कारगर साबित हो सकता है। आयुर्वेद में भी ऐसा माना गया है कि अदरक पाचन क्रिया को तेज करने में काफी लाभदायक है। 
अदरक
  • सौंफ: आपने अक्सर ऐसा सुन होगा कि, खाना खाने के बाद सौंफ जरूर खाना चाहिए। जी हाँ ऐसा इसलिए कहा जाता है क्योंकि सौंफ में ऐसे अर्क पाए जाते हैं जो पाचन क्रिया को balance करने में काफी मददगार होते हैं। सौंफ खाने से पेट से जुड़ी बहुत सी समस्याओं का अंत होता है जैसे कब्ज, bloting, indigesation, आदि। इसलिए खाना खाने के बाद एक चम्मच सौंफ खाना आपके digestion के लिए बेहद महत्वपूर्ण साबित हो सकता है। 
सौंफ

Maharishi Ayurveda Digestive Care Therapy है पाचन की सभी समस्याओं का समाधान 

आयुर्वेद कहता है कि आपके पेट की सेहत आपकी सम्पूर्ण स्वास्थ्य पर असर डालती है। स्वस्थ पाचन का राज है सही और संतुलित पाचन अग्नि यानि digestive fire। हमारी पाचन अग्नि की मजबूती और स्वास्थ्य पर हमारी जीवनशैली और हम जो खाना खाते हैं, उसके प्रकार, गुणवत्ता, और तापमान का बहुत बड़ा प्रभाव पड़ता है। आपकी जानकारी के लिए बता दें कि, ठंडा खाना, गलत खाद्य पदार्थों का संयोजन, processed food, meat आदि से अपच की समस्या हो सकती है और पेट में toxic पदार्थों का जमाव हो सकता है जो acidity का कारण बन सकता है पाचन क्रिया को बाधित करता है। इस वजह से आगे चलकर बहुत से लोगों को imbalance bowel movement, acidity, stomach pain, emotional stress, constipation आदि समस्याओं का सामना करना पड़ सकता है। हमारे प्राचीन आयुर्वेदिक ग्रंथों में इस बात का खास जिक्र किया गया है कि, एक सुचारु पाचन क्रिया के लिए digestive fire का balanced रहना बेहद आवश्यक है। 

Maharishi Ayurveda ने लाखों लोगों के पाचन तंत्र से जुड़ी विभिन्न समस्याओं के निदान के लिए खासतौर से Digestive Care Therapy का निर्माण किया है। यह पाचन से जुड़ी समस्याओं के मूल कारणों पर काम करता है और पाचन अग्नि को संतुलित रखने में बेहद मददगार साबित होता है। इस digestive care therapy  में आपको मुख्य रूप से इन तीन उत्पादों का बेहद खास कॉम्बो मिलता है।

  • Amlant (अम्लान्त) - यह एसिडिटी को कम करता है और इस समस्या को वापिस आने से रोकता है।
  • Dizomap (डिजोमैप) - यह खासतौर से digestive system को healthy रखने में बेहद मददगार है। 
  • Triphala (त्रिफला) - यह खासतौर से शरीर से विषैले पदार्थों को बाहर निकालने और कब्ज की समस्या को दूर करने में बेहद कारगर है । 

 

Digestive Care Therapy

Digestive care Therapy के इस पैक में आपको Amlant की 60 गोलियां, Dizomap की 60 गोलियां और Triphala की 60 गोलियां मिलती हैं। तो देर किस बात कि यदि आपको भी पाचन से जुड़ी समस्याओं से आये दिन दो चार होना पड़ता है तो आज ही आर्डर कीजिये Maharishi Ayurveda का यह ख़ास कॉम्बो।

Read More

Vaidya Recommended

Find Out The Root Cause Of Your Problems

As per Ayurveda, no two individuals are alike. Maharishi Ayurveda offers personalised treatment for each individual at all touch-points. Consult our expert Vaidyas to get root cause-based personalised treatment from the comfort of your home

CONSULT VAIDYA